Domain Name क्या है? Domain Investing के बारे में जाने

0
domian-investing-in-hindi

डोमेन इन्वेस्ट कैसे करते हैं domain investing in Hindi क्या आप जानते हैं डोमेन के बारे में ए टू जेड इंफॉर्मेशन आज का हमारा यह आर्टिकल आपको डोमेन से रिलेटेड जानकारी प्रोवाइड कराने में काफी मदद करेगा मैं यकीन दिलाता हूं इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आप सीख जाएंगे कि डोमेन में इन्वेस्ट कैसे करते हैं और कैसे 2 डॉलर का डोमेन 2 बिलियन डॉलर में बेच सकते हैं.

या फिर आप नया ब्लॉगिंग करियर स्टार्ट करने जा रहे हो तो आपको यह जानना बहुत जरूरी है की प्रॉपर डोमेन नेम कैसे खरीदें? Exact Match Domain (EMD) क्या होता है? डोमेन नेम की लेंथ कितनी होनी चाहिए? ऐसी कई सारी जानकारी इस आर्टिकल में मिलेगी.

Domain क्या है?

Domain Name आपकी वेबसाइट का नाम या पता होता है आमतौर पर यह कंप्यूटर के लिए नंबर के फॉर्म में होता है लेकिन इंसान इन नंबर्स को याद नहीं रख सकता इसलिए इन नंबर्स को एक नाम दे दिया जाता है जिसे हम आम इंसान याद रख सके उसे ही हम Domain Name कहते हैं.

उदाहरण के रूप में मान लीजिए आपको किसी के घर जाना हो तो आप उसका पता पूछते हैं है कि नहीं ठीक वैसे ही यदि वेब ब्राउज़र को किसी वेबसाइट या वेब पेज को विजिट करना हो तो उसके लिए उसे उस वेबसाइट का वेब एड्रेस यानी की डोमेन नेम एड्रेस पता होना बहुत आवश्यक है जिसके लिए हमारे वेबसाइट में डोमेन नेम होता है.

Domain Name के चार मुख्य भाग कौन से हैं?

Protocol : यह डोमेन का सबसे पहला पार्ट होता है जिससे आप किसी भी वेबसाइट की सिक्योरिटी का अंदाजा लगा सकते हैं यह मुख्य रूप से दो प्रकार के होते हैं  http and https एचटीटीपीएस का मतलब होता है सिक्योर कनेक्शन

Subdomain : यदि आप का कोई बड़ा बिजनेस है जैसे की न्यूज़ वेबसाइट तो आपको सब्डोमेन को यूज करना चाहिए यदि आपकी मेन वेबसाइट हिंदी में है और आपको इंग्लिश वेबसाइट भी बनानी है और भारत के अन्य भाषा जैसे तमिल ,गुजराती ,मराठी ,बंगाली इत्यादि अन्य भाषा में बनानी है तो आप सब्डोमेन का इस्तेमाल कर सकते हैं 

हम चाहे तो www या non www दोनों मे से किसी भी एक का इस्तेमाल कर सकते है. जैसा कि आप इमेज मे देख पा रहे होंगे।  

www-vs-non-www domain

Domain name: यह मुख्य डोमेन नेम होता है जिस को आप याद करके किसी भी वेबसाइट पर विजिट कर सकते हो

Extension: डोमेन नेम का सबसे आखरी हिस्सा कहलाता है एक्सटेंशन या Top level domain (TLD)  इससे आप किसी भी डोमेन नेम के बिजनेस के बारे में अंदाजा लगा सकते हैं जैसा कि आपको नीचे लिस्ट में कुछ एक्सटेंशन के उदाहरण दिए गए हैं जिसका अपना अलग-अलग एक मतलब होता है

  • .com 
  • .in 
  • .edu
  • .org
  • .tech 
  • .net 
  • .io 
  • .uk 
  • .Gov
  • .info, etc.

Domain name system (DNS) यह इंटरनेट पर उपस्थित सारी वेबसाइट और वेब आईपी एड्रेस के बीच में कम्युनिकेशन को सफल बनाने का कार्य करता है इसका मेन उद्देश्य है आपको वेब ब्राउज़र में सटीक वेबसाइट आप तक पहुंचाना

Web Browser और यूजर के बीच में डोमेन नेम सिस्टम IP Address के माध्यम से बातचीत करते हैं हम इंसान जिस डोमेन नेम को किसी नाम से जानते हैं वह वास्तव में वेब ब्राउज़र के लिए सिर्फ नंबर के फॉर्म में होता है जिसे डोमेन नेम सिस्टम पड़ सकता है

Domain Name खरीदने के लिए 10 Tips

  1. सबसे पहले अपना social media account रजिस्टर करें

कोई भी डोमेन खरीदने से पहले उस डोमेन नेम को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर एक बार सर्च जरूर करें क्या पहले से ही इस डोमेन नेम से कोई अकाउंट या प्रोफाइल बनी हुई है क्योंकि बाद में आपको दिक्कत आ सकती है आप ब्लॉग या बिजनेस चलाते हो तो आपको सोशल मीडिया अकाउंट बनाना ही पड़ेगा जिससे आपकी Authority and Brand Value बढ़ेगी.

  1. Keyword Research करे

यदि आप कोई ब्लॉगर हो तो मुझे इसके बारे में ज्यादा कुछ बताने की जरूरत नहीं है यह मैं मान कर चलता हूं पर फिर भी कीवर्ड रिसर्च करना बहुत जरूरी होता है चाहे आप डोमेन नेम खरीद रहे हो अपने बिजनेस के लिए या कोई आर्टिकल लिख रहे हो आपका एक कीवर्ड आपके बिजनेस को ऊंचाइयों तक ले जा सकता है.

  1. Don’t buy EMD 

Google ईएमडी updates जब से गूगल के अपडेट आए हैं Blogger या Domain Investor दोनों के लिए काफी मायने रखता है शुरू के दौर में हम एग्जैक्ट डोमेन नेम खरीद कर सर्च इंजन SERP में टॉप पर आते थे इसलिए Google Algorithm Update में एमडी अपडेट आया.

  1. Don’t use special character or any symbol in domain

यह बेहद जरूरी है कि आपकी वेबसाइट में किसी भी तरह का – , _ ,* ,@ ,# इत्यादि कुछ भी ना मौजूद हो क्योंकि ऐसा करने पर आप अपना ट्रैफिक खो दोगे क्योंकि इसे ना तो वेबसाइट विजिटर्स और ना ही सर्च इंजन समझ पाते हैं.

  1. Don’t use numbers or numeric value 

Domain name मैं नंबर्स का आना कोई ज्यादा इंपैक्ट नहीं करता है पर यह आपकी वेबसाइट में आने वाले विजिटर्स को कम कर सकता है जैसे कि आप की वेबसाइट को याद रखना यूजर्स के लिए काफी परेशानी होती है क्योंकि हर कोई नंबरों को ज्यादा दिनों तक याद नहीं रख सकता है.

  1. आपका domain simple short and easy to remember होना चाहिए 

आपका डोमेन सबसे सरल और आसान भाषा में होना चाहिए जो बिल्कुल आपके बिजनेस से मिलता जुलता हो जिससे आपके यूजर बहुत समय के लिए याद रख सकें और जिसकी  लेंथ 2 वर्ड से ज्यादा बड़ी ना हो.  e.g. flipkart.com , google.com ,carwale.com 

  1. Check domain history before buy

सबसे पहले तो आप जिस डोमेन को खरीदना चाहते हैं उसके बारे में अच्छे से गूगल पर सर्च कर ले क्या वह डोमेन पहले से ही किसी समस्या में इन वॉल नहीं था.

  1. Always prefer .com

लोगों को .com वाले डोमेन नेम याद रखने में काफी आसानी होती है और यह यूनिवर्सल डोमेन कहलाते हैं यदि आप कोई कमर्शियल बिजनेस करते हो तो आपको डॉट कॉम के साथ जाना चाहिए.

  1. Check for intellectual properties

Intellectual properties इसका सीधा सा मतलब यह है कि क्या आप जिस नाम से डोमेन खरीद रहे हैं उस नाम से पहले से ही किसी ने अपना ट्रेडमार्क या कॉपीराइट या पेटेंट रजिस्टर तो नहीं करवाया है क्योंकि यदि ऐसा है तो आप उस नाम से भी कोई डोमेन खरीद नहीं सकते क्योंकि भविष्य में आपको Copyright की दिक्कतें आ सकती है.

  1. Choose trustworthy domain registered

डोमेन नेम खरीदने से पहले आपको यह बात जान लेनी है कि आप जिस जगह से डोमेन खरीदने जा रहे हैं वहां पर वह वेबसाइट कितनी रिलायबल और Authorized है और किस तरह के आपको ऑफर मिल रहे हैं और सबसे पहले तो आप उस वेबसाइट का रिव्यू सर्च कर ले.

Domain Name बेचें कैसे?

मे ये मानकर चलता हूं कि आपने डोमेन खरीद लिया है अब आप ढूंढ रहे हैं कि मैं इस डोमेन को कहां पर बेच सकता हूं या नहीं Daman investing in Hindi  पर आने के बाद आपको मैं नीचे कुछ तरीके बता रहा हूं जिससे आप डोमेन आसानी से बच सकते हो.

1 Contact Directly to new business : आप चाहे तो न्यू entrepreneur या न्यू Business startup को रिसर्च करके उनसे कांटेक्ट कर सकते हैं डायरेक्ट उनसे डिस्कस कर सकते हैं.

2 Park your domain : आपने जिस वेबसाइट से डोमेन खरीदा है वहां पर आपको डोमेन पार्क का ऑप्शन भी मिलता है जहां पर आप अपना डोमेन पार्क करके उसे ऑक्शन में बेच सकते हो उदाहरण के तौर पर hostinger.in , dhan.com, sedo.com ,afternic.com

3 Create your own website : आपका अपना एक वेबसाइट बनाकर उसमें Landing Page बनाले जिसमे आपके सारे रजिस्टर डोमेन आप अपने मनचाहे कीमत पर बेच सकते हो.

4 Create social media account :  सबसे आसान और काफी ज्यादा पॉपुलर तरीका है जिसके चलते आप सोशली लोगों तक अपने डोमेन को पहुंचा सकते हो.

5 Create YouTube channel : आप चाहे तो अपना एक YouTube channel बनाकर उस पर लोगों को अपने बिजनेस के बारे में बता सकते हो और अपने रजिस्टर डोमेन भी सेल कर सकते हो। 

Domain Flipping क्या है?

इसका सीधा सा यह मतलब होता है कि आप डोमेन नेम बाय करें और उसे किसी दूसरे व्यक्ति को बेच दें जिससे आपको Money Earning होती है.

आपको डोमेन नेम के बारे में सर्च करना होगा जैसा कि Expired Domain कौन से है और डोमेन नाम कितने Brand value और seo friendly है. domain flipping यह एक domain investing in Hindi का सबसे बड़ा उदाहरण है जिसकी मदद से आप online paise kama सकते हो .

FAQ

1. Domain Name कहाँ से खरीदें?

वैसे तो आपने Godaddy, Namecheap और Bigrock के बारे में बहुत सुना होगा लेकिन हम आपको भारत में मौजूद website के बारे में बताएंगे जहाँ आप सबसे कम price में domain name और hosting दोनों एक साथ खरीद सकते हैं। उस website का नाम है Hostinger.in

2. Domain बेचने के लिए सबसे अच्छी Websites

एक बार आपने domain name खरीद लिया तो फिर आपको इसे अच्छे जगह reasonable price के साथ बेचना बहुत जरूरी है इसके लिए आप यहाँ पर बताई गयी कुछ websites को follow कर सकते हैं जो की हैं – sedo.com, flippa.com, afternic.com, godaddy auction आदि।

3. Domain Flipping में Parking क्या होती है?

Domain को आप चाहो तो अभी या फिर 2 साल बाद या आप जब चाहे तब बेच सकते हो लेकिन उसके लिए आपको अपने domain को एक जगह पर park करके रखना पड़ेगा उसके लिए आपको free domain park और cash parking यह दो platform मिलेंगे dan.com, sedo.com, afternic.com etc

4. Domain में कितना खर्चा आता है?

कोई भी नया business शुरू करने के लिए आपको थोड़ा सा खर्चा तो उठाना ही पड़ेगा लेकिन शुरू में आप 1000 से 1500 तक ही खर्च करें आप चाहे तो कोई domain 300 रुपये में खरीद कर उसे रख सकते हैं और बाद में अगर उसकी demand ज्यादा है तो उसे अपनी मनचाही कीमत पर बेच सकते हैं।

Conclusion

दोस्तों  domain investing in Hindi यह बहुत बड़ा टॉपिक है पर मैंने आप लोगों को कुछ नए मुद्दों को समझाने में कोशिश की है.इसके बारे मे और अदिक जानना हे तो Namepros.com फोरम पर जाकर पड़ सकते हो मैं आशा करता हूं आपको पूरी जानकारी मिली हो क्योंकि आपने देखा होगा बड़े से बड़ा व्यक्ति रातों-रात कभी आमिर नहीं बनता है उसे शुरू से ही बहुत संघर्ष और कड़ी मेहनत का सामना करना पडता है.

यदि आप भी चाहते हो डोमेन में निवेश करके पैसा कमाना तो आज से ही आरंभ कर दीजिए क्योंकि आपने कोई डोमेन आज ₹100 में खरीदा हो तो क्या जाने भविष्य में उसकी कीमत कोई बता नहीं सकता

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here