Google Ads Data Hub क्या है और ये कैसे काम करता है?

0
google-ads-data-hub-kya-hai

स्वागत है हमारे ब्लॉग हिंदी में बताओ पर आज हम जानेंगे कि google ads data hub kya hai और साथ ही इसका इस्तेमाल कैसे किया जाता है, आखिर यह काम कैसे करता है और किसे इसका यूज करना चाहिए जैसी कई सारी जरूरी बातें।

अगर आप एक डिजिटल मार्केटिंग या ऑनलाइन एडवरटाइजिंग कंपनी हो तो आपकी काफी मदद आज की यह ऑर्टिकल करने वाली है आप जानोगे कि किस तरह हम गूगल ऐड को एड डेटा हब के साथ कनेक्ट कर अपने डाटा प्राइवेसी को बचाते हुए पूरी तरह से कस्टमाइजेशन रिपोर्ट देख सकते हैं।

हम गूगल एड डाटा को इंटीग्रेट करके इवेंट लेवल डाटा को किस तरह एक्सेस कर सकते हैं।

Google Ads Data Hub क्या है?

Google ad data hub कि मदद से हम  Google पर स्थित कई सारे मार्केटिंग प्लेटफार्म पर काफी सारी  जानकारी आसानी से हासिल कर सकते हैं बिना अपने प्राइवेसी को दूसरे लोगों के साथ साझा किए जो google cloud पर बना है। उदाहरण के लिए इन मार्केटिंग प्लेटफार्म में Google Ads, Campaign Manager, Display और Video 360  इत्यादि शामिल है।

हमें गूगल एड डाटा हब की जानकारी को देखने के लिए सबसे पहले गूगल ऐड को ऐड डेटा हब खाते से जोड़ना होता है जिसके बाद हम अपने एडवरटाइजिंग कैंपेन की जानकारी event level data को एक्सेस कर सकते हैं। और साथ ही customise report का विश्लेषण कर देख सकते हैं।

हमारे द्वारा की गई मार्केटिंग के असर को बेहतर तरीके से समझ सकते हैं उदाहरण के लिए मान लीजिए आप एक विज्ञापन चलाना चाहते हैं। जो सिर्फ नए उपयोगकर्ताओं को ही दिखे इसके लिए आपको दो महत्वपूर्ण डाटा की जरूरत पड़ेगी पहला है कस्टमर रिलेशनशिप मैनेजमेंट (CRM) और दूसरा गूगल ऐड (Google Ads) इन दोनों tools से आप देख सकते हैं कि आपके विज्ञापन मौजूदा ग्राहकों और नए ग्राहकों को किस तरह दिखाए जा रहे हैं जिसके बाद आप इस पर आपकी जानकारी के हिसाब से कोई एक्शन भी ले सकते हैं।

Ads Data Hub काम कैसे करता है?

Ads data hub आपके डेटा और गूगल के बीच में एक ब्रिज की तरह काम करता है। जहां पर वह डाटा की सेफ्टी बनाए रखता है जिसकी मदद से हम विजिटर्स की रिपोर्ट देख सकते हैं

Image source: Google Blogs

गूगल कई सारे प्रोडक्ट से डाटा Google manage data set मे अपलोड करता है जैसे कि यूट्यूब, गूगल ऐड और डिस्प्ले विडियो 360 इत्यादि जिसके बाद आप अपने डाटा को BigQuery मैं अपलोड करते हो उसके बाद आप के डाटा को और गूगल मैनेज डाटा को ऐड डेटा हब कनेक्ट करता है इन दोनों डाटा को एक साथ मिलाकर आपको कस्टमाइज रिपोर्ट बना कर देता है।

>> Also Read: PPC kya hai ? Pay Per Click की संपूर्ण जानकारी

Google Ads को Ads Data Hub से कैसे जोड़ें?

सबसे पहले आपके पास गूगल एड अकाउंट होना चाहिए तभी आप ऐड डाटा हब को गूगल ऐड के साथ कनेक्ट कर सकते हो अब आपको नीचे दी गई स्टेप्स को फॉलो करना होगा ताकि आप एड डेटा हब आपके गूगल ऐड के साथ कनेक्ट कर सको

1 अपने गूगल एड अकाउंट को साइन इन कर ओपन करें।

2 आपके अकाउंट में ऊपर दाई और टूल और सेटिंग आइकॉन दिखाई दे रहा होगा उस पर क्लिक करें।

3 इसके बाद सेटअप मेनू मे linked account पर क्लिक करें।

4 ads Data hub मैं जाकर detail पर क्लिक करें।

5 अब आपको लिंक बटन पर क्लिक कर अपनी आईडी जोड़ना है

6 जारी रखें पर क्लिक करें।

Ads Data Hub के फायदे

1 इसकी मदद से हम आसानी से इवेंट लेवल डाटा को चेक कर सकते हैं।

2 ए डाटा हब की मदद से हम अपने एडवरटाइजिंग efficiency को इंप्रूव कर सकते हैं।

3 privacy को और भी बेहतर बना सकते हैं।

4 इसकी मदद से हम कस्टमाइज रिपोर्ट बना सकते हैं।

5 easy to manage database क्योंकि यह क्लाउड सर्विस पर काम करता है।

6 एड डाटा हब की मदद से मार्केटर का काफी टाइम बच जाता है क्योंकि उन्हें हर campaign के लिए एक अलग एक्सएल फाइल नहीं बनानी होती है

>> Also Read: Featured snippet kya hota hai और कैसे उसे हासिल करे सम्पूर्ण जानकारी

Conclusion

आज आपने सीखा google ads data hub kya hai और किस तरह काम करता है और गूगल एड डाटा को किस तरह कनेक्ट किया जाता है हमने आपको Google ads data से जुड़ी बेसिक जानकारी दी है

हम उम्मीद करते हैं आपको हमारे द्वारा आज की google ads data hub kya hai यह पोस्ट काफी इनफॉर्मेटिव लगी होगी अगर आपको इस तरह की नई जानकारी जानना है तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं और साथ ही अपने दोस्तों के साथ इसे शेयर करना ना भूले

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here