M Yoga App क्या है? Best Yoga App अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस

0
m-yoga-app-kya-hai

नमस्कार दोस्तों आज आप जानने वाले हो M yoga app kya hai और साथ ही अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के बारे में सभी महत्वपूर्ण बातें आखिर क्यों इसे 21 जून को ही मनाया जाता है.

किस तरह हम योगासन करके ना सिर्फ अपने शरीर को बल्कि अपने विचार प्रिया और स्वास्थ्य को बेहतर बना सकते हैं इस corona महामारी के दौर में हमें अपने स्वास्थ्य को लेकर ध्यान देना बहुत जरूरी है. 

इसीलिए आज की आर्टिकल हम आपके लिए लेकर आए हैं ताकि आप जान सके की  M yoga app kya hai और टॉप योगा एप्लीकेशन कौन से है इस तरह की सभी जरूरी बातें

भारत में Yoga की शुरुआत कब हुई?

योग एक शारीरिक मानसिक एवं आध्यात्मिक अभ्यास होता है जिसका जन्म पहली बार भारत में हुआ था जिसे  माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा  संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) में अपने भाषण के दौरान 27 सितंबर 2014 में पहली बार अंतरराष्ट्रीय तौर पर प्रस्तावित किया गया 

जिसे आगे चलकर पूरी दुनिया में 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाने लगा यही दिन इसलिए चुना गया क्योंकि इस दिन को उत्तरी गोलार्ध में  साल का सबसे बड़ा दिन होता है यह  विशेष महत्व प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में बताया था

M Yoga App क्या है?

अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर श्री प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरी दुनिया को भारत की ओर से एक सौगात दी है M yoga ऐप लॉन्च का ऐलान किया है इस ऐप के जरिए भारत के अलावा दुनिया के कई सारे लोग yoga आसानी से सीख सकते हैं क्योंकि इस योगा ऐप में कई सारी विदेशी भाषाएं जुड़ी है.

 इस ऐप में अपने योग से रिलेटेड बहुत सारी जरूरी जानकारी एवं वीडियो होंगे जिससे विदेशी लोग भी आसानी से अपने भारत के योगासन सीख सकते है M yoga ऐप को भारत की मोरारजी देसाई राष्ट्रीय योग संस्थान  और आयुष मंत्रालय ने वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (WHO) जैसे बड़े संस्थानों के साथ मिलकर बनाया है

आप इस एप्लीकेशन की मदद से दुनिया के किसी भी कोने में योगासन सीख सकते हो क्योंकि इस एप्लीकेशन में ना सिर्फ हिंदी बल्कि दुनिया के कई सारी भाषाओं में योगासन videos देखने को मिलते हैं जिससे विदेशी लोग भी इंडिया के योगा वीडियो देखकर योगासन सीख सकते हैं.

>> Read this : Koo App Kya hai और आखिर असली Koo app Founder कौन है सम्पूर्ण जानकारी.

M Yoga App Download कैसे करें?

इस ऐप को डाउनलोड करना बिल्कुल आसान है आपको सबसे पहले Play Store ओपन करना होगा जिसके बाद निचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें 

स्टेप 1 प्ले स्टोर को ओपन कर सर्च बॉक्स में M yoga टाइप करें 

स्टेप 2 अब आपको नीचे पहले रिजल्ट में ही एप्लीकेशन दिखाई देगी जो आपको नीचे इमेज में दिखाई दे रही है

स्टेप 3 इंस्टॉल बटन पर क्लिक कर ले उसके बाद आपकी एप्लीकेशन आपके मोबाइल में डाउनलोड हो जाएगी

अब आप डाउनलोड एप्लीकेशन को ओपन कर उसे इस्तेमाल कर सकते हैं बिना रजिस्टर किए दोस्तों एम योगा ऐप को चलाने के लिए आपको किसी भी तरह की जानकारी यानी कि रजिस्ट्रेशन करना नहीं पड़ता है

Top 4 Yoga Apps

1 Daily Yoga

इस application को 5 मिलियन से भी ज्यादा लोगों ने डाउनलोड किया है जो आपको free में योग वीडियोस देता है इस एप्लीकेशन को गूगल प्ले स्टोर पर 4.8 की रेटिंग दी गई है जिसका यूजर इंटरफेस काफी आसान है आपके लिए इस ऐप पर योगा प्रोफेशनल मौजूद रहते हैं

2 Keep Yoga

कीप योगा एप्लीकेशन की खासियत है कि आप अपने योगा सेशन को अपने दोस्तों के साथ साझा भी कर सकते हो इसमें योगा के लिए प्रोफेशनल वीडियोस और वॉइस गाइडलाइन भी दी गई है जिसे प्ले स्टोर पर 1 मिलियन से भी ज्यादा लोगों ने डाउनलोड किया है इस ऐप के अंदर आपको योगा के अलावा मोटिवेशनल वीडियोस भी देखने को मिलते हैं

3 Fitter 

जैसा की किसके नाम से ही पता चलता है यह एप्लीकेशन आप को फिट रखने में सहायता करती है जिसको गूगल प्ले स्टोर पर 4.5 रेटिंग दी गई है इस ऐप में योगासन के साथ-साथ कैलोरी कैलकुलेट, डाइट प्लान जैसे कई सारे मोड उपलब्ध है जहां पर आप अपने योगा के साथ साथ न्यूट्रिशन और डाइटिंग प्लान जैसे फीचर्स का भी मजा ले सकते हो

4 Down Yoga

यह भी काफी पॉपुलर योग एप्लीकेशन है जिसमें आप अपने योगा को और भी बेहतरीन कर सकते हो यह पूरी तरह से फ्री ऐप है जहां पर आपको कई तरह के customization ऑप्शन मिल जाते हैं इस ऐप को हर उम्र के लोग अपने चैलेंज के हिसाब से योगा कर पाते हैं इस ऐप में आप अपने योगा फिटनेस को ट्रैक भी कर सकते हो

>> Jiochat kya hai कैसे Whatsapp ka alternative app बना

Conclusion

मैं उम्मीद करता हूं आपको आज की हमारी M yoga app kya hai पोस्ट अच्छी लगी हो मैंने पूरी कोशिश की है की एम योगा ऐप क्या होता है और अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस क्यों मनाया जाता है इसके बारे में डिटेल जानकारी देने की 

हमें अपनी सेहत को लेकर हमेशा ही जागरूक रहना चाहिए क्योंकि वह कहावत तो सुनी होगी हेल्थ इज वेल्थ आपको अगर हमारी यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर  करें ताकि उसे हमें अगला आर्टिकल लिखने में मोटिवेशन मिलता है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here