PPC Ads कितने प्रकार के होते हैं?

0
ppc-ads-types-in-hindi

स्वागत है हमारे ब्लॉग पर आने के लिए आज हम जानेंगे ppc ads types in hindi के बारे में आप को पीपीसी क्या होता है? और पीपीसी के क्या फायदे हैं? इस तरह की जानकारी पता होगी मैं यह मानकर चलता हूं.

लेकिन आप लोगों ने अभी तक नहीं जाना कि PPC के फायदे और पीपीसी क्या होता है तो आप हमारे इस ब्लॉग में दी गई link पर क्लिक करके जान सकते हैं.

आज के इस आर्टिकल में हम आपको पीपीसी के कितने प्रकार होते हैं इसे समझाने वाले हैं क्योंकि हमें इसे समझना होगा कि आखिर वेबसाइट या मोबाइल पर ऐड दिखाई देते हैं वह कितने प्रकार के होते हैं और किस तरह काम करते हैं.

PPC क्या है?

यह एक ऑनलाइन एडवरटाइजिंग मॉडल होता है जहां पर विज्ञापनदाता  उसके ऐड पर यदि कोई व्यक्ति क्लिक करता है तब उसे गूगल ऐड को कितने पैसे देने होते हैं यह डिसाइड किया जाता है इसे ही पीपीसी यानी कि Pay Per Click कहते हैं.

PPC का इतिहास

इंटरनेट पर कई सारी ऐसी वेबसाइट है जो दावा करती है कि पीपीपी मॉडल उनके द्वारा लाया गया था लेकिन हम बात करें PPC के इतिहास की तो यह पहली बार साल 1998 मे Goto.com जो कि एक स्टार्टअप कंपनी थी के द्वारा इस्तेमाल किया गया और आगे चलकर पीपीसी मॉडल का कांसेप्ट गो टू डॉट कॉम के फाउंडर Bill Gross द्वारा अपनाया गया।

गूगल ने अपने सर्च इंजन एडवरटाइजिंग साल 1999 के दिसंबर माह से शुरुआत की जिसके बाद आगे चलकर गूगल एडवर्ड 2002 में लाया गया जिसकी मदद से हम टेक्स्ट ऐड गूगल सर्च इंजन के लिए बना सकते थे और इसके लिए प्रति हजार व्यू को ध्यान में रखते हुए भुगतान किया जाता था।

PPC Ads के प्रकार

आज हम बात करेंगे उस आठ प्रकार के PPC ads types in hindi की जिसके मदद से आप अपने बिजनेस की सेल्स को बढ़ा सकते हो या अपनी वेबसाइट पर ट्रैफिक ला सकते हो

  • Search Ads

यह सबसे common सर्च ऐड है जिसे आपने कई बार google के सर्च इंजन रिजल्ट पेज पर देखा होगा इस तरह की ad Search engine के फर्स्ट पेज पर देखने को मिलते हैं इसे पहचानने के लिए आप इसकी वेबसाइट के आगे ‘ad’ लिखा होता है इसका मतलब होता है कि यह google एड्स के जरिए टॉप पेज पर rank हो रही है.

आप नीचे इमेज में देख सकते हो इस तरह की ऐड को सर्च इंजन पर रैंक करवाने के लिए आपको गूगल एडवर्ड पर bidding करनी होती है यानी किस कीवर्ड पर आपकी ऐड display हो इसके  लिए उसके ऊपर आप कुछ पैसे गूगल को देते हो तब जाकर आपकी ऐड की पोजीशन डिसाइड होती है इस ऐड में सिर्फ text content दिखाई देता है ना कि कोई visual graphic

ppc ads types in hindi

इस तरह की ऐड की पोजीशन कई सारे फैक्टर पर डिपेंड करती है जैसे कि क्वालिटी स्कोर,  क्लिक थ्रू रेट, बिडिंग प्राइस और  लैंडिंग पेज इत्यादि

>> Google Ads Data Hub क्या है और कैसे काम करता है

  • Display Ads

पीपीसी एड टाइप का यह दूसरा प्रकार है जहां पर हम न सिर्फ टेक्स्ट एड बल्कि इमेज ऐड भी लगा सकते हैं अक्सर इस तरह के ऐड गूगल के पार्टनर वेबसाइट मैं देखने को मिलती है यानी कि आप किसी वेबसाइट पर जाते हो तब आपको डिस्प्ले ऐड देखने को मिलती है जिनके लिए गूगल ऐडसेंस से उस ब्लॉग या वेबसाइट को ऐड अप्रूवल लेनी होती है ताकि वह अपने वेबसाइट में डिस्प्ले एड शो करवा सके

इस तरह की ऐड का मुख्य उद्देश्य होता है अपने बिजनेस के प्रोडक्ट या सर्विस को सेल करना।

  • Social Ads

यह सबसे ज्यादा पॉपुलर ऐड टाइप है जो आज के समय में बहुत सारे ऐड एडवरटाइजिंग एजेंसी के द्वारा यूज किया जा रहा है इसके नाम से ही पता चलता है की इस तरह के एडवर्टाइजमेंट आपके  सोशल मीडिया फीड या अकाउंट पर देखने को मिलती है।

जैसा कि आप नीचे इमेज में देख सकते हो आपके सोशल अकाउंट में कुछ ऐड दिखाई देते हैं जहां पर Sponsored लिखा होता है जिसका मतलब है यह एक ऐड

ppc ad types

इस तरह की ऐड कई सारे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स यानी कि फेसबुक, इंस्टाग्राम, ट्विटर, linkedin और Pinterest  इत्यादि पर दिखाई देती है  सोशल ads के जरिये अपने टारगेट ऑडियंस को valuable कस्टमर में कन्वर्ट करना बहुत ही आसान होता है।

>> ppc क्या होता है ppc के फायदे क्या है

  • Video Ads

वीडियो ऐड को instream ऐड भी कहा जाता है अक्सर इस तरह की ऐड आपको यूट्यूब के वीडियो में देखने को मिलती है जो कि दो प्रकार की होती है स्किपेबल एड्स और नॉन स्किपेबल ऐड

यह ऐड वीडियो देखने के पहले या वीडियो देखते समय कभी भी आ जाती है जिससे हमें कई बार परेशानी होती है लेकिन वीडियो ऐड सबसे ज्यादा कारगर पीपीसी ऐड टाइप है जहां पर आपको काफी अच्छा रीच मिलता है.

इस तरह के ऐड एक मोशन वीडियो ऐड होती है जहां पर वीडियो के जरिए हम अपने प्रोडक्ट या सर्विस का प्रमोट कर सकते हैं.

  • Shopping Ads

इस तरह की ऐड आपको अक्सर तब दिखाई देते हैं जब आप ई-कॉमर्स वेबसाइट में जाकर कोई प्रोडक्ट के बारे में सर्च करते हो और उसके बाद गूगल के सर्च इंजन पर उस प्रोडक्ट को सर्च करते हो तब आपको बहुत सारी अलग-अलग कंपनी के वही प्रोडक्ट्स सर्च इंजन रिजल्ट पेज पर carousel के फॉर्मेट में देखने को मिलते हैं.

आपके ब्राउज़िंग डेटा या उसकी cookies को स्टोर कर लिया जाता है जिसके बाद आपको उसी प्रोडक्ट की शॉपिंग ad देखने को मिलती है जिसे आप ने हाल ही में गूगल पर सर्च किया है.

इस पेड़ सर्च एडवरटाइजिंग को गूगल पर शो करने के लिए आपको अपने campaign  टाइप को शॉपिंग चुनना होगा

  • Gmail sponsored Ads

आपने कई बार देखा होगा आपके इनबॉक्स पर सबसे ऊपर मेल लिस्ट  के आगे Ad  लिखा होता है जिसका मतलब है यह मेल गूगल एडवर्ड के ऐड कैंपेन के जरिए आपके इनबॉक्स में आया है इसका मेन उद्देश्य होता है अपनी Reach को बढ़ाना या ब्रांड अवेयरनेस करवाना

इस तरह की ऐड का मुख्य उद्देश्य होता है अपनी वेबसाइट पर ट्रैफिक लाना या प्रोडक्ट को सेल करना।

  • Mobile App Ads

Mobile ad सिर्फ मोबाइल डिवाइस में रन करते हैं जोकि Google AdMob के द्वारा बनाए जाते हैं जिसका मकसद आपके मोबाइल में स्थित एप्लीकेशन या गेम में विज्ञापन दिखाना होता है.

आपने अक्सर देखा होगा इस तरह की ऐड फ्री एप्लीकेशन पर अक्सर ज्यादा देखने को मिलती है अगर आपको अपने मोबाइल के अंदर किसी भी तरह की ऐड नहीं देखनी है तो आपको उस एप्लीकेशन का प्रीमियम एक्सेस लेना होता है.

  • Voice Ads

जैसा कि इसके नाम मात्र से पता चलता है इस तरह की ऐड टाइप हमें अक्सर किसी online music streaming या podcast में सुनने को मिलती है.

इस तरह की ऐड को हम अपने बिजनेस की अवेयरनेस के लिए इस्तेमाल करते हैं ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग आपके बिजनेस के बारे में जान सके 

>> PPC kya hai ? Pay Per Click की संपूर्ण जानकारी

Conclusion

हम उम्मीद करते हैं आपको आज कि PPC ads types in hindi यह  पोस्ट काफी इनफॉर्मेटिव लगी होगी हमने पूरी कोशिश की है कि आपको ppc की ऐड टाइप कितने होते हैं इसके बारे में संपूर्ण जानकारी मिले ताकि आप भविष्य में अगर कोई पीपीसी कैंपेन चलाते हो तो इन सभी ppc ऐड टाइप का इस्तेमाल कर अपने बिजनेस पर अच्छा खासा ट्रैफिक ला सके.

अगर आपको हमारे द्वारा दी गई यह जानकारी पसंद आए हो तो अपने दोस्तों के साथ जरूर साझा करें और हमें कमेंट करके जरूर बताएं कि हम आपको और किस टॉपिक के बारे में ज्यादा इंफॉर्मेशन दे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here