PPC क्या है? Pay Per Click की संपूर्ण जानकारी

0
ppc-kya-hai

नमस्कार दोस्तों क्या आपके दिमाग में भी PPC kya hai या pay per click kya hai इस तरह के सवाल दौड़ रहे हैं आखिर किस तरह गूगल सर्च इंजन पर हमें ऐड दिखाई देते हैं या फिर यूट्यूब के वीडियो में ऐड क्यों आते हैं वेबसाइट में ऐड क्यों दिखाई देते हैं.

इन सभी ऐड को कौन बनाता है और हमें हर जगह यह ऐड क्यों दिखाई देते ऑनलाइन मार्केटिंग के बारे में सर्च इंजन मार्केटिंग क्या होता है इस तरह की कई सारे सवालों के जवाब आपको आज के इस पोस्ट में मिलेंगे इसलिए इसे ध्यानपूर्वक पढ़ें.

एक तो होता है सोशल मीडिया ऑप्टिमाइजेशन यानी की बहुत मेहनत करके Free में गूगल के  search engine result page पर rank करना और ब्लॉग पर traffic लाना और एक होता है पैसों के जरिए यही सब करना

Pay Per Click (PPC) क्या है?

पीपीसी का मतलब होता है पे पर क्लिक यानी कि हर क्लिक पर कितने पैसे आपको गूगल ऐड को देने हैं pay per click एक online advertising model होता है जहां पर विज्ञापनदाता को अपने विज्ञापन को दिखाने या promote करने के लिए गूगल ऐड को कुछ पैसे देने होते हैं जिसके लिए पॉपुलर पीपीसी मॉडल को फॉलो किया जाता है

पीपीसी मॉडल को अपनाने के पीछे का मुख्य उद्देश्य होता है अपने प्रोडक्ट की सेल्स को बढ़ाना या अपने वेबसाइट पर traffic लाना या फिर अपने brand को ऑनलाइन प्रमोट करना इत्यादि

यह search engine optimisation से बिल्कुल अलग है जहां पर हम किसी भी प्रकार की फीस गूगल को नहीं देते लेकिन ppc में हमें गूगल को कुछ पैसे देने होते हैं ताकि वह अपने ऐड को सर्च इंजन रिजल्ट पेज पर दिखाएं पीपीसी मॉडल के जरिए हम अपने टारगेट ऑडियंस तक आसानी से अपना प्रोडक्ट पहुंचा सकते हैं ppc model के अलावा अन्य मॉडल भी होते है जैसे की CPA (cost per acquisition), CPM (cost per thousand impressions)

SEM और PPC में क्या अंतर है?

SEM का फुल फॉर्म होता है सर्च इंजन मार्केटिंग वहीं दूसरी तरफ CPC का मतलब होता है पे पर क्लिक यानी कि आपकी ad पर यदि कोई व्यक्ति क्लिक करता है तब विज्ञापनदाता गूगल ऐड को कितने पैसे देगा 

सर्च इंजन मार्केटिंग के अंदर ही पीपीसी आता है मतलब  कि सर्च इंजन मार्केटिंग एक umbrella term है जिसमें cpc का अपना अलग रोल होता है

पीपीसी एक पेमेंट ऑप्शन है जहां पर advertiser गूगल ads के साथ यह तय करता है कि कौन से keyword पर कितने पैसे वह गूगल ऐड को देगा जब कोई व्यक्ति उसकी ऐड पर क्लिक करेगा और दूसरी तरफ sem याने की सर्च इंजन मार्केटिंग के अंदर और भी कई सारी  बातें आती है जैसे कि क्वालिटी स्कोर, लैंडिंग पेज, ऐड ग्रुप, ऐड एक्सटेंशन इत्यादि

PPC Ads के प्रकार

Online advertising के कई सारे प्रकार देखने को मिलते हैं लेकिन आज हम आपको उन प्रचलित प्रकारों के बारे में बताने वाले हैं जो सबसे famous है

1 Search ads 

यह वह ऐड होते हैं जो हमें सर्च इंजन के रिजल्ट पेज पर दिखाई देते हैं आपने इन्हें कई बार देखा है आप जब भी सर्च इंजन में कोई प्रोडक्ट या सर्विस से जुड़ी query सर्च करते हो तो आपको टॉप रिजल्ट में एक या दो ads  दिख जाते हैं जहां पर link के आगे ad लिखा होता है

search ads example

इसे seo की भाषा में inorganic सर्च रिजल्ट कहते हैं जहां पर एडवरटाइजर गूगल ऐड को कुछ पैसे देकर अपने ऐड टॉप पर rank करवाता है

2 Social ads

इस तरह के ऐड केवल सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर दिखाई देते हैं आपने अपने सोशल अकाउंट पर कुछ एडवर्टाइजमेंट देखने को मिलती है जहां पर कॉर्नर में sponsored लिखा होता है यह सोशल ads  का ही उदाहरण है

social ads example

 social media platform जैसे कि Facebook, Instagram, LinkedIn, Pinterest, Twitter etc यह ऐड देखने को मिलते हैं

3 Display ads

हम अक्सर Display ads को किसी वेबसाइट या ब्लॉग पर देख सकते हैं इस समय आप हमारे इस ब्लॉग पर कंटेंट के अंदर या header में एड्स दिखाई दे रहे होंगे उन्हें ही  डिस्प्ले ऐड कहा जाता है इन ऐड्स को गूगल ऐडसेंस के जरिए दिखाया जाता है

4 Shopping ads

इसके बारे में हमें ज्यादा समझाने की जरूरत नहीं है क्योंकि यदि आपने किसी ई-कॉमर्स वेबसाइट पर एक बार विजिट कर किसी प्रोडक्ट या सर्विस के बारे में जानने की कोशिश की है तो आपको शॉपिंग ad  सर्च इंजन रिजल्ट पेज पर कई बार देखने को मिलते हैं जैसे कि, अमेजॉन ,फ्लिपकार्ट ,मिंत्रा इत्यादि

5 Video ads

यूट्यूब पर कई बार वीडियो शुरू होने से पहले या वीडियो के चलते बीच में अक्सर आपको video ads दिखाई देते हैं उन्हें ही  वीडियो ads कहा जाता है जोकि दो प्रकार के होते हैं skipable ads और non skipable ads

PPC Tools और Software कौन से हैं?

पीपीसी मैं कई सारे ऐसे variables होते हैं जिनको हमें साधारण वर्ड फाइल में स्टोर कर उसे हैंडल करना मुश्किल होता है जिसके लिए हमें खास तरह के सॉफ्टवेयर या टूल्स की जरूरत होती है ताकि हम अपना आवश्यक सामग्री को व्यवस्थित स्प्रेडशीट में रिपोर्ट बनाकर रख सके और जरूरत पड़ने पर उसे एडिट भी कर सके 

नीचे हम कुछ पीवीसी टूल्स के उदाहरण दे रहे हैं उन्हें आप देख सकते हैं

  1. Google ads
  2. Bing ads editor
  3. Spyfu
  4. SEMrush
  5. Word stream
  6. Ninjacat

Latest PPC Trends कौन से हैं?

1 Voice search

हम में से कई सारे लोग वॉइस सर्च का इस्तेमाल करते है फ्यूचर में इस सर्चिंग टेक्नोलॉजी का काफी इस्तेमाल किया जाएगा जिसके लिए हमें long tail keyword पर काम करना होगा

2 Virtual reality ads

जब से वर्चुअल रियलिटी टेक्नोलॉजी आई है तब से वीडियो ऐड्स भी काफी मशहूर होते जा रहे हैं हमें अपने ऐड कैंपेन को वर्चुअल रियलिटी वीडियो यानी  की  360 degree videos के लिए ad बनाना चाहिए

3 अधिक Automation

मशीन लर्निंग आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस जैसी कई सारी ऑटोमेशन टेक्नोलॉजी बहुत तेजी से विकसित हो रही है इसलिए हमें भी अपने ऐड कैंपेन को इन सभी टेक्नोलॉजी के लिए विकसित करनी होगी

4 Understand buyers intent

चाहे आप कितने भी अच्छे ऐड बना लो पर आपको अपना फाइनल प्रोडक्ट कस्टमर के लिए ही बनाना है और हमें अपने ऐड को इस तरह बनाना है कि कस्टमर उसे आसानी से हासिल कर सके

5 Instagram opportunity

हमारे पास गूगल प्लेटफार्म इसके अलावा कई सारे अन्य प्लेटफार्म है  जिनके लिए ऐड कैंपेन बनाना सीखना होगा अभी हाल ही में इंस्टाग्राम पर कई सारे यूजर्स आ गए हैं यह एक अछि opportunity हो सकती है 

Conclusion

दोस्तों आज आपने सीखा की ppc kya hai और pay per click kya hai के बारे मे साथ ही SEM और PPC में क्या अंतर होता है वह कौन से टूल्स अवेलेबल है जिसकी मदद से हम अपना सर्च इंजन मार्केटिंग आसानी से ऑपरेट कर सकते हैं

मैं उम्मीद करता हूं आपको हमारे द्वारा दी गई यह जानकारी काफी मददगार साबित होगी यदि आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आई है तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं क्योंकि आपका एक कमेंट हमें काफी मोटिवेट करता है अगला आर्टिकल लिखने के लिए

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here