Zero Click Searches क्या होती हैं? Zero Click Searches के बारे में यहाँ जाने

0
Zero-searches-click-in-hindi

क्या आप गूगल पर सर्च करते करते थक गए हो ?  आप को प्रॉपर इंफॉर्मेशन मिल नहीं रही है ? आपको पता है Zero click searches in hindi या No search click अथवा Featured Snippet इन सभी के बारे में पूरी तरीके से जानकारी है यदि नहीं हैं तो आज हम आपको इन सभी टर्म के बारे में बताने जा रहे हैं.

आज का यह आर्टिकल मेरे उन दोस्तों के लिए है जो कॉन्टेंट बनाकर अपनी वेबसाइट पर अपलोड करते हैं या कंटेंट राइटर है दोस्तों अगर आपने जीरो क्लिक सर्च के बारे में कहीं सुना है या यूट्यूब पर वीडियो देखी हो और आप सोच-सोच कर परेशान हो गए हैं कि अब हमारे Blogging Career का क्या होगा तो घबराए नहीं आज का यह ब्लॉग पढ़ने के बाद आपके अंदर पॉजिटिव एनर्जी बढ़ जाएगी.

Zero Click Searches क्या हैं?

Zero click searches का सीधा सा यह मतलब होता है. कि आपको बिना किसी वेबसाइट पर विजिट किए गूगल की सर्च रिजल्ट में पहला ही क्विक आंसर बॉक्स मिल जाता है. जिसे पढ़कर यूजर को समाधान मिलता हे ओर  User Experience बढ़जाता हे.जोकि आपकी Query या Keyword से रिलेटेड होता है.

गूगल हर दिन कुछ ना कुछ नया अपडेट लाते रहता है. मैं आशा करता हूं कि आप लोगों को गूगल के फीचर्ड स्निप्पेट क्या है के बारे में जानकारी होगी क्योंकि Featured Snippet का मतलब यह होता है कि आप ऐसा आर्टिकल लिखें जिसमें की यूजर के क्वेश्चन का आंसर बहुत सटीक और सरल भाषा में लिखा हो. 

जीरो क्लिक सर्च या नो क्लिक सर्च गूगल की सर्च इंजन पर खोजी गई ऐसे कीवर्ड होते हैं जिसका उत्तर यूजर को Search engine result page (SERP) पर ही मिल जाता है और यूजर बिना किसी लिंक पर क्लिक किए ही प्राप्त रिजल्ट से काफी संतुष्ट होता है. इस तरह के सर्च रिजल्ट को ही जीरो रिसर्च या नो लिख सर्च कहते हैं.

Rand Fishkin की रिपोर्ट के अनुसार zero click search दिन-ब-दिन बढ़ते जा रहा है उन्होंने अपने आर्टिकल जो सर्च इंजन लैंड पर मौजूद है उसमें बताया है कि सन 2020 में जीरो क्लिक सर्च करीब-करीब 65% बढ़ गया बिना किसी वेबसाइट या वेब पेज पर क्लिक कीए ऐसे यूजर्स आए थे जिसमें ज्यादातर मोबाइल यूजर्स थे जोकि लगभग 77 पॉइंट 2 प्रतिशत थे और 40 पॉइंट 5 प्रतिशत जो डेक्सटॉप सर्च से आए.

हालांकि इसमें घबराने वाली कोई बात नहीं है क्योंकि यह कोरोना पेंडेमिक का दौर था जिसमें गूगल सर्च रिजल्ट मैं बहुत ज्यादा क्वेरी सर्च की गई जिसके चलते फीचर्ड स्निप्पेट बहुत ज्यादा बार दिखाया गया.

क्यो Google ज्यादातर Snippet दिखाता है?

गूगल से ही अपने आप को अपडेट करते आ रहा है आज के समय में गूगल पर सर्च किए जाने वाली हर एक टर्म्स का आंसर देना गूगल का प्राथमिक कर्तव्य बन गया है. जिसके चलते गूगल अपने सर्च इंजन को हर दिन ऑप्टिमाइज करते रहता है.

यूजर के एक्सपीरियंस को बेहतर बनाने के लिए हमेशा कुछ New Techniques अपने सर्च इंजन रिजल्ट पेज पर लाते रहता है गूगल ताकि उसे ज्यादा से ज्यादा कीवर्ड या क्यूरी से रिलेवेंट रिजल्ट आप तक पहुंच पाए.

Google चाहता है कि उसके यूजर्स को बिना किसी वेबसाइट पर क्लिक किए सर्च इंजन रिजल्ट मे ही सारी परेशानी का हल मिल जाए जिससे गूगल के यूजर बढते है.

जैसा कि आपको नीचे दिए गए गूगल के सर्प फीचर्स दिए गए हैं जिससे आपको पता चलेगा की गूगल हर दिन zero click searches in hindi क्यों बढ़ते जा रहे है.

Featured Snippet

फीचर्ड स्निपेट जिसे आंसर बॉक्स या क्विक आंसर कहां जाता है यूजर के सवाल से रिलेटेड बहुत सटीक और सरल भाषा में यूजर को आंसर मिलता है जिससे यूजर्स को किसी वेबपेज को ओपन करने की जरूरत नहीं होती है नीचे दिए गए इमेज से आपको पता लग रहा होगा.

E.g. आप गूगल के सर्च बॉक्स में कोई query टाइप करते हो Koo App क्या है तो आपको क्विक डेफिनेशन देखने को मिलती है

paragraph-snippet

Knowledge Panel 

आप जब भी किसी बिजनेस के बारे में या कोई बड़ी हंसती के बारे में सर्च करते हो तो उससे रिलेटेड एक इंफॉर्मेशन बॉक्स गूगल सर्च रिजल्ट पे राइट टॉप कॉर्नर में दिखाई देता है जिसमें उस व्यक्ति या बिजनेस से रिलेटेड ब्रीफ इंफॉर्मेशन होती है उसे ही Knowledge Panel कहा जाता है.  

E.g. नीचे दी गई फोटो से पता चल रहा होगा आपने गूगल पर यह कीवर्ड सर्च किया who is mj और आपको ऐसा रिजल्ट दिख रहा है

knowlege panel kya hai

Google SERP tools

गूगल के सर्च इंजन में बहुत सारे फ्री टूल्स अवेलेबल हैं. जिनका Search Volume बहुत ज्यादा और वे कीवर्ड हर दो सेकंड मे  सर्च होते रहते हैं जैसा कि हमने नीचे कुछ ऐसे गूगल टूल्स के बारे में बताया है.

  1. Currency converter – हम अक्सर दैनिक जीवन में पैसों को कमाने के पीछे लगे हुए रहते हैं और गूगल में हमेशा करंसी कन्वर्ट करके देखते रहते हैं आजकल हर दूसरा व्यक्ति डॉलर टू रुपीस ,रुपीस टू डॉलर  इत्यादि कीवर्ड सर्च करते रहता है.
  2. Calculator – यह गूगल का सबसे ज्यादा यूज़ किया जाने वाला टूल है जिससे हम ऑनलाइन कैलकुलेटर यूज कर सकते हैं जिसे गूगल ने खुद बनाया है.
  3. Weather report – आज के दौर मे आप अपने मोबाइल फोन से ही पता लगा सकते हैं कि आज का वेदर अपडेट क्या है गूगल के फर्स्ट रिजल्ट में ही आपको टेंपरेचर और वेदर के बारे में संपूर्ण जानकारी मिल जाती है.
  4. Translation – इसे तो हम बिना यूज किए रह नहीं सकते क्योंकि हमारे भारत में कई तरह की भाषाएं बोली जाती है जिसको समझना हर किसी के बस की बात नहीं इसलिए हम Google Translate का बहुत ज्यादा यूज करते हैं जैसे कि मराठी टू हिंदी,हिंदी टू इंग्लिश,इंग्लिश टू हिंदी,बंगाली टू गुजराती इत्यादि।

Zero Click Searches से कैसे निकलें?

जीरो क्लिक सच में अगर आपका कोई ब्लॉग टॉपिक या पेज शो हो रहा है तो इसमें घबराने की कोई बात नहीं क्योंकि इससे ज्यादा तर आपका Click Through Rate (CTR) और Traffic बढ़ेगा यदि आप लोगों ने नीचे दिए गए तकनीक को फोलो किया हो.

आपका आर्टिकल फीचर्ड स्निपेट में आता है तो बहुत अच्छी बात है नीचे में कुछ लिस्ट दे रहा हूं जिसकी मदद से आप जीरो रिसर्च परिणाम से बच सकते हो। 

  1. Provide value in the content

हमेशा अपने आर्टिकल में content लिखते वक्त यह ध्यान रखें कि आप किसी भी टॉपिक के बारे में लिख रहे हो तो उसमें डाटा की ऑथेंटिसिटी और Unique Content होना बहुत जरूरी है.

  1. Explore and Adaptability

यह सबसे जरूरी है कि आप गूगल के साथ चलते रहे मेरा कहने का मतलब है अपने आप को हर दिन अपडेट करें और गूगल पर आने वाली सभी इंपोर्टेंट अपडेट के बारे में हमेशा से ही सतर्क रहें और उसे अपनाते रहे.

  1. Build your own ecosystem

आप चाहे तो अपना खुद का एक मार्केट बना सकते हैं जिसमें आप ही के सारे प्रोडक्ट्स और सर्विस अवेलेबल हो.

  1. Don’t Depend on single platform

शुरुआत से ही आप यह कोशिश करें कि आपका आर्टिकल किसी एक प्लेटफार्म पर डिपेंड ना हो मेरा कहने का मतलब है आप दूसरे सर्च इंजन भी ट्राई कर सकते हैं.

  1. Use social media

सोशल मीडिया यह अपने आप में बहुत बड़ा मार्केट है जहां पर आप अपने प्रोडक्ट और सर्विस का ब्रांड या अपनी आइडेंटिटी बना सकते हो इसके माध्यम से आपके वेबसाइट में बहुत ज्यादा ट्रैफिक आता है.

  1. Build your own brand (wom)

World of mouth जैसा आज के समय में गूगल ने अपना ब्रांड बना लिया है वैसे ही आप अपना खुद का ब्रांड बना सकते हैं जैसे कि आपको अगर कोई प्रॉब्लम का सलूशन चाहिए तो आपको आपके दोस्त कहते होंगे अरे भाई गूगल कर लो. क्योंकि गूगल ने अपना ब्रांड सर्च इंजन में बना लिया है कोई यह नहीं कहता कि सर्च इंजन पर सर्च कर लो.

  1. Understand User Intent

आर्टिक्ल को लिखते वक्त इस बात का विशेष ध्यान रखना है की मेरा आर्टिकल यूजर क्यों पड़ेगा मतलब User intent.

  1. Always write for voice search

हमेशा ऐसा आर्टिकल लिखे जोकि वॉइस सर्च के लिए पहले से ही रेडी हो क्योंकि फ्यूचर में हम ज्यादातर वॉइस सर्च का ही इस्तेमाल करेंगे।

कौन सी Website Zero Click Searches में आती हैं?

अब आपको डर लग रहा होगा कि क्या जीरो क्लिक सर्च से मेरे ब्लॉग या वेबसाइट पर कोई इंपैक्ट होगा या नहीं तो चलिए इसके बारे में भी बात कर लेते हैं.

जैसा कि आप जान चुके हो गूगल हर दिन अपने आप को डेवलप करते रहता है जबसे सन 2019,20 और 21 एक ऐसा इरा था जिसमें गूगल पर सर्च क्यूरी बहुत ज्यादा हुई और जिसके चलते गूगल को अपने यूजर्स को डेटा में एक्यूरेसी और ऑथेंटिसिटी चाहिए थी जिसके चलते गूगल में सर्च क्यूरी पर बहुत ज्यादातर स्निप्पेट या आंसर बॉक्स दिखाई देने लगे

क्योंकि आज कल हम हर छोटी सी छोटी चीज के लिए गूगल पर सर्च करते रहते हैं जिससे गूगल पर बहुत ज्यादा क्वेरी की एंट्री होती है जिससे गूगल को अपने यूजर्स को सटीक और एक्यूरेट डाटा प्रोवाइड करने में परेशानी भी होती है जैसा कि यह इरा कोविड-19 का था जिसमें सेंसिटिव इंफॉर्मेशन हुआ करती थी.

यदि बात करें कुछ आर्टिकल कि जो भविष्य में क्या उस में दिक्कत आ सकती है या नहीं तो इसके लिए नीचे मैंने कुछ एग्जांपल साइट्स लिखे हैं जिन पर भविष्य में इस तरह की जीरो सर्च क्लिक वाली परेशानियां और भी भयानक रूप के साथ आपके सामने आ सकती है जैसे कि lyrics website, full form website, sports website, jobs results websites, movies review websites, biography website इत्यादि। ऐसी कई सारी और भी वेबसाइट है जिनमें भविष्य में इसी तरह की दिक्कतें आ सकती है.

Conclusion 

मैं यह मानकर चलता हूं कि आपको आने वाले समय में जीरो क्लिक सर से रिलेटेड कोई परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा क्योंकि आप लोगों ने यह आर्टिकल पूरा पढ़ लिया है जिससे आपको यह आईडिया लग चुका है के फीचर्ड स्निप्पेट क्या है और zero click searches in hindi या नो क्लिक क्या होता है और इससे कैसे बचें इसके बारे में सारी प्रॉब्लम सॉल्व हो गई हो.

इस आर्टिकल मैं आपको कुछ इंफॉर्मेशन मिसिंग या इनकरेक्ट लगी हो तो मुझे कमेंट करके जरूर बताएं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here